PM Modi Ke Swach Bharat Ka Ashar Ab Shaadi Ke Card Par Dekhina Laga

मोदी के स्वच्छ भारत अभियान का असर अब शादियों के कार्ड पर भी दिखने लगा

राजसमंद जिले की नाथद्वारा तहसील में एक अनोखी पहल सामने आई है। यहां एक व्यक्ति ने अपने यहां शादी के आयोजन के लिए छपाए गए कार्ड पर शौचालय नहीं होने पर जिमने नहीं आने की बात कह दी है।

दरअसल, खमनोर पंचायत समिति की ग्राम पंचायत उपली ओड़न के गांव डिंगेला के रहने वाले लालसिंह कितावत के यहां आगामी 6 मई 2017 को भाई राजेन्द्र सिंह की शादी है। इससे पहले जब वे सरपंच सुरेशचंद्र जलानिया से मिले तो उनके मन में ग्राम पंचायत को ओडीएफ मुक्त करने के लिए कुछ अलग करने की सोची। इसी दौरान सरपंच सुरेशचंद्र ने उन्हें शादी के निमंत्रण पत्र पर स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देने वाला स्लोगन लिखने की बात कही।

इस पर लालसिंह ने शादी के छपाये हुए कार्ड पर साफ—साफ शब्दों में ये लिख दिया है कि जिसके घर शौचालय न हो, कृपया जीमने न पधारें और नीचे स्वच्छ भारत मिशन भी लिखा है। इस स्लोगन से कोई रिश्तेदार या ग्रामीण नाराज हो तो इससे उन्हें कोई सरोकार नहीं है।

उनका केवल एक ही उद्देश्य है कि ग्राम पंचायत में सभी घरों में शौचालय का निर्माण हो। लालसिंह ने बताया कि वे खुद भी स्वच्छ भारत अभियान के प्रति जागरूक हैं और लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करते हैं।

उनका कहना है कि जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वयं देश को स्वच्छ बनाने के लिए जुटे हुए हैं तो उन्हें भी देश का नागरिक होने का फर्ज निभाते हुए स्वच्छ भारत अभियान को समर्थन देना चाहिए। उन्होंने बताया कि अभी उनके गांव में करीब बीस प्रतिशत घरों में शौचालय नहीं हैं।

trained-pigeon-caught-by-bsf-jawans-in-jaislamer-by-pakistan

जैसलमेर में पाक से आया ट्रेंड कबूतर पकड़ा गया, पिछले साल पीएम के लिए धमकी लाया था एक कबूतर

भारत-पाकिस्तान सीमा से सटे जैसलमेर के तनोट इलाके में मंगलवार को सीमा सुरक्षा बल की बबलियान सीमा चैाकी पर बीएसएफ के सजग जवानों ने पाकिस्तान की सीमा से उड़ कर आए एक ट्रेंड कबूतर को पकड़ा है. इस कबूतर पर कुछ नंबरिंग की हुई हैं. यह कबूतर मानव फ्रेंडली बताया जा रहा है. इससे पहले भी गत जनवरी में शाहगढ़ बल्ज क्षेत्र में ऐसा एक ट्रेंड कबूतर पकड़ा था, जिस पर टेग लगा हुआ था. खबर यह भी है कि पाकिस्तान की सीमा से उड़कर आ रहे यह ट्रेंड कबूतर संभवतः अरब के शहजादों के हो सकते हैं, जो कि इन दिनों सीमा पार हुबारा व अन्य बडर्स के शिकार के लिए आए हुए हैं.

पीएम मोदी को ‘धमकी’ का संदेश लाता कबूतर पंजाब में ‘धरा गया
2016 में पंजाब पुलिस ने राज्य की पाकिस्तान से सटी सीमा के पास एक कबूतर को ‘हिरासत में लिया’ था, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धमकी देने वाला एक संदेश ले जा रहा था. पुलिस ने बताया कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के अधिकारियों को यह कबूतर पठानकोट में दिखा था, जहां इसी साल जनवरी में पाकिस्तानी आतंकवादियों ने एयरफोर्स बेस पर हमला किया था. पुलिस इंस्पेक्टर राकेश कुमार ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया था कि कबूतर के पंजों में एक संदेश बंधा हुआ था, जो उर्दू भाषा में था. राकेश कुमार ने बताया, “उसमें ऐसा कुछ लिखा था, ‘मोदी, हम 1971 वाले लोग नहीं हैं… अब बच्चा-बच्चा भारत के खिलाफ लड़ने के लिए तैयार है.

जम्मू-कश्मीर में 153 कबूतरों पर है ‘पाकिस्‍तानी जासूस’ होने का शक
पिछले साल भी जम्मू-कश्मीर ले जाए जा रहे 153 कबूतरों की जांच हुई थी. पुलिस ने कश्मीर जा रहे एक वाहन से कुछ बक्से जब्त किए, जिनमें 153 कबूतरों को कश्मीर घाटी ले जाया जा रहा था. इन कबूतरों के शरीर पर गुलाबी निशान थे और इन्हें संदिग्ध रिंग पहनाए गए थे. इस मामले को जांच के लिए सीआईडी के सुपुर्द कर दिया गया था.

PM Narendra Modi 3 May Ko Kedarnath Ke Dawre Mein

पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे के लिए पुलिस चला रही खास अभियान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 3 मई को केदारनाथ धाम के प्रस्तावित दौरे को लेकर पुलिस मुस्तैद हो गई है। रुद्रप्रयाग से लेकर गौरीकुंड तक सुरक्षा व्यवस्थाओं को पुख्ता किया जा रहा है। पुलिस ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ के प्रस्तावित दौरे को लेकर केदारघाटी के लोगों में उत्साह है। उन्होंने प्रधानमंत्री से केदारनाथ को सड़क से जोड़ने की मांग की है। केदार सभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला का कहना है कि वे केदारनाथ को सड़क से जोड़ने की मांग प्रधानमंत्री के समक्ष रखेंगे।

minister-piyush-goyal-give-gift-to-pm-narendra-modi-parliamentary-kashee

पीएम मोदी की काशी को बड़ी सौगात, शत-प्रतिशत विद्युतीकरण वाला पहला जिला होगा

यूपी में बीजेपी सरकार बनने का लाभ पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र को मिलने लगा है। केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के चतुमुर्खी विकास के लिए बनायी गयी कार्य योजना की समीक्षा करते हुए यहां के लोगों को बड़ी सौगात दे दी है। मंगलवार को कमिश्ररी सभागार में समीक्षा करते हुए केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री ने कहा कि जिले में 30 जून तक शत-प्रतिशत विद्युतीकरण कार्य हो जाना चाहिए। इससे शत-प्रतिशत विद्युतिकरण वाला पहला जिला काशी बन जायेगा।

केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सभी लोगों को बिजली बिल भरने व वैध कनेक्शन लेने के लिए जागरूक किया जाये। विद्युत विभाग के अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि शहर व ग्रामीण क्षेत्र में कोई ऐसा घर नहीं मिलना चाहिए, जहां पर वैध विद्युत कनेक्शन न हो। 30 जून तक किसी भी कीमत में यह काम पूर्ण हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी अभियान चला कर अवैध कनेक्शन को वैध कराये। इस कार्य में लापरवाही मिलने पर संबंधित अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

एसएसपी करे भ्रष्टाचार में लिप्त पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई
मंत्री पीयूष गोयल ने एसएसपी नितिन तिवारी से कहा कि महकमे में मौजूद भ्रष्ट पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये। पुलिसिया व्यवस्था सही होनी चाहिए और आम लोगों को तुरंत न्याय दिलाने की व्यवस्था होनी चाहिए।

विधायक अपने क्षेत्र के कूड़ा निस्तारण व बिजली व्यवस्था पर नजर रखे
केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि विधायक कम से कम एक दिन अपने क्षेत्र के कूड़ा निस्तारण व बिजली सप्लाई व्यवस्था पर नजर रखे। स्थानीय लोगों से मिले और कूड़ा उठान व बिजली आपूर्ति को लेकर जो समस्या है उसकी जानकारी लेने के बाद समाधान कराये। उन्होंने कहा कि यहां पर इको ग्रीन कंपनी को कूड़ा निस्तारण का ठेका दिया गया है। करसड़ा प्लांट वाली जगह पर इको ग्रीन कंपनी को प्राथमिकता के आधार पर 10 एकड़ भूमि उपलब्ध करायी जाये।

शिकायतों के निस्तारण के लिए 30 अप्रैल तक नगर निगम बनाये कॉल सेंटर
पीयूष गोयल ने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिया कि लोगों के शिकायतों के निस्तारण के लिए अपने यहां पर 30 अप्रैल तक कॉल् सेंटर स्थापित करे। इस सेंटर पर सफाई, कूडा उठान, पेयजल आदि 12 सेवाओं के संबंध में आम लोग शिकायत कर सकेंगे। शिकायत करने वाले के मोबाइल पर फोन करके बताया जाये कि उनकी शिकायत दर्ज हो गयी है। उन्होंने कहा कि इस सेंटर पर मिलने वाली शिकायतों को काशी के स्वच्छता एप पर भी डाला जाये। अधिकारियों ने ऊर्जा मंत्री को बताया कि रेलवे के सहयोग के नहीं चलते अभी तक रेलवे के किनारे 18 शौचालय, 44 मूत्रालय व 44 कूड़ाघर नहीं बन पाये हैं। इस पर केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि रेलवे अधिकारी के साथ बैठक करके समस्या का समाधन करे। अपने स्तर से भी वह रेलवे के अधिकारियों से वार्ता करेंगे। पीयूष गोयल ने कहा कि सीवेज ट्रीटमेंट उनकी सरकार की प्राथमिकता में है,ऐसे में रमना में 50, गोइठहा में 120 व दीनापुर में 140 एमएलडी वाले सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के निर्माण में तेजी लायी जाये। पांच जून को पर्यावरण दिवस के दिन 1 लाख पौध लगाने का भी केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री ने निर्देश दिया है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि काशी के विकास में आने वाली सभी बाधा को प्राथमिकता के आधार पर दूर किया जाये।

योजना की धीमी गति पर लगायी फटकार
पीयूष गोयल को जिन योजनाओं में धीमी गति की जानकारी मिली है तो संबंधित अधिकारी को फटकार भी लगायी है। उन्होंने कहा कि सत्ता बदल चुकी है, इसलिए अधिकारी अपनी कार्यशैली भी बदल ले।

दो अक्टूबर तक खुले शौच से मुक्त हो जायेगा शहर
पीएम नरेन्द्र मोदी की योजनाओं पर विशेष फोकस करते हुए कहा कि 2 अक्टूबर को शहर को खुले शौच से मुक्त करा दिया जाये। आठो विधानसभा में अभियान चला कर सफाई व्यवस्था को ठीक करने, विभिन्न योजनाओं के सामने लागत व पूर्ण होने की जानकारी देने वाला बोर्ड लगाने, यातायात व्यवस्था ठीक करने, प्रतिदिन योजना की प्रगति रिपोर्ट पीएमओ भेजने आदि का भी निर्देश दिया है।

तीसरी पार्टी से करायी जाये ओवरहैड टैकों की जांच
शहर में बनने के बाद भी बेकार पड़े ओवरहैड टैंकों की जांच टीएमएसी के बजाये किसी तीसरी संस्था से कराया जाये। उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि काशी के तेज गति से विकास होना चाहिए और इस बात का ध्यान रखा जाये कि काशी का ऐतिहासिक महत्व किसी तरह प्रभावित न हो। बैठक में कमिश्रर नितिन रमेश गोकर्ण, विधायक रवीन्द्र जायसवाल, सौरभ श्रीवास्तव, राज्यमंत्री डा.नीलकंठ तिवारी, जिलाधिकरी योगेश्वर राम मिश्र, नगर आयुक्त डा.हरिप्रताप शाही आदि अधिकारी उपस्थित थे।

PM-Narendra-Modi-to-Visit-Shimla-on-27-April

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 अप्रैल को जाएंगे शिमला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 अप्रैल को एक दिन के दौरे पर हिमाचल प्रदेश जाएंगे. इस दौरान वह भाजपा की एक रैली को संबोधित करने के अलावा एक कॉलेज की आधारशिला रखेंगे.

प्रधानमंत्री की यात्रा के विस्तृत कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जा रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा और पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल आज शाम यहां पहुंचे. वहीं विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) और सशस्त्र बलों ने सुरक्षा की स्थिति को लेकर भाजपा नेताओं के साथ चर्चा की.